जानले टूथपेस्ट का इतिहास और फायदे

सुबह जब हम उठते है तो सबसे पहले ब्रश करते है अपने दात साफ करते है. सभी इंसानो का यही चलन हर सुबह होता है. हर घर में अलग अलग प्रकार की टूथपेस्ट इस्तेमाल होती है. आज हम टूथपेस्ट का इतिहास और उसके फायदे जानेंगे. Toothpaste history and benefit जानते है विस्तार से…

Toothpaste history and benefit

यदी हम टूथपेस्ट का इतिहास देखने जाये तो हमे काही वर्षे पीछे जाना होगा. टूथपेस्ट का इस्तेमाल बहुत पुराना है. ईसा से लगभग ५०० वर्ष पूर्व चीन तथा भारत जैसे देशों में लोग हड्डियों व सीपियों के चूरे को मिलाकर देसी नुस्खों से तैयार टूथपेस्ट का इस्तेमाल करते थे. हालांकि आधुनिक टूथपेस्ट का चलन उन्नीसवीं सदी से शुरू हुआ. वर्ष १८२४ में पीबॉडी नामक एक डेंटिस्ट ने पहली बार टूथपेस्ट में साबुन का इस्तेमाल किया था. आगे चलकर १८५० के दशक में जॉन हैरिस ने टूथपेस्ट में चॉक जैसा घटक जोड़ा. वैसे यह न्यूयॉर्क सिटी में स्थित कोलगेट कंपनी ही थी, जिसने वर्ष १८७३ में पहली बार टूथपेस्ट का व्यापक पैमाने पर निर्माण किया. Toothpaste की history प्रकार है. आपको बता देखी टूथपेस्ट के benefit भी है.

भारत की गीतांजली राव बनी किड्स ऑफ ईयर अवश्य पढे : TIME Kid of the Year

Toothpaste के प्रकार

इंसान की जैसे आधुनिकता की और प्रगती होती कैसे उसके जीवनमान में सुधार आते गया. शुरुआती दौर मे दातो को साफ करने के लिए इंसान किसी भी पेड की डाली का इस्तेमाल करता था. उसके बाद दातो को साफ करने के लिए चुल्हे से निकली राख और कोयले की पावडर का इस्तेमाल किया जाता था. नमक, पुदीना, आईरिस (Iris) फूल और मिर्च के मिश्रण शामिल थे भारत और चीन के लोगों ने पहली बार toothpaste का प्रयोग 500 ईसा पूर्व किया था. History के पन्नों को उलटा कर देखे तो हमें यह बात बता चलती है.

Toothpaste के benefit

रोज सुबह हम ब्रश करते है अपने दातो को साफ करते है. आधुनिक समय में टूथपेस्ट सन 1800 से बनना शुरू हुआ जो एक साबुन की तरह हुआ करता था और इसमें खड़िया मिश्रित हुआ करती थी इंग्लैंड में 1800 के वक़्त लोग सुपारी से दांतों को साफ़ किया करते थे और 1860 में यहाँ लोगों ने कोयले से दांत साफ़ करना शुरू कर दिया था इसके बाद कोलगेट कंपनी बाजार में आई जिसे विलयम कोलगेट ने स्‍थापित किया था. नियमित रूप से Toothpaste का इस्तेमाल करने से हमे benefit मिलते है. जैसे हमारे दातोका स्वास्थ्य अच्छा रहता है. सासो मे बदबू नही आती है. दातो की आयु लंबी होती है.

Colgate history

आज जब भी हम किसी दुकान पर जाते है Toothpaste लेने के लिये तो हमारे मुह से Colgate काही नाम निकलता है. इतनी हमारे दिल पर Colgate की छाप पडी है. ये एक अमेरिकी ब्रांड है जो मुख्य रूप से टूथपेस्ट, टूथब्रश, माउथवॉश बनाती है कोलगेट कंपनी ने सन् 1866 में खुशबूदार साबुन, इत्र और 1873 में पहली बार टूथपेस्ट बाजार में उतारा. दरअसल 1896 में कोलगेट ने टूथपेस्ट को ट्यूब में पैक करके बेचना शुरू किया था. कोलगेट दुनिया के 200 से ज्यादा देशों के एक अरब से ज्यादा लोगों की पसंद है. भारत में कंपनी ने 1937 में प्रवेश किया और धीरे-धीरे इसी देश की बनकर रह गई.

टूथपेस्ट के फायदे क्या है

Toothpaste का इस्तेमाल हम दातो को साफ करने के लिए करते है. लेकिन इसके अलावा टूथपेस्ट के बहुत सारे benefit है. आज जानते है इसके बारे मे…

1 अगर त्वचा को कोई भाग जल गया है, तो जले हुए स्थान पर Toothpaste लगाये, ऐसा करने से जलने भी कम होगी और फफोले भी नहीं पड़ेंगे

2 रात को मुहांसों पर टूथपेस्ट लगा कर छोड़ दें और सुबह उठकर धो लें. यह त्वचा के अतिरिक्त तेल को सोख लेगा और मुंहासे सूख जाएंगे.

3 कपड़े पर लिपस्टिक या स्याही के दाग लग जाने पर परेशान होने की बिल्कुल जरूरत नहीं है. बस दाग लगने वाली जगह पर थोड़ा-सा Toothpaste लगाकर रखें और धो लें.

4 अगर कांच की टेबल पर चाय के कप रखने से निशान बन गए हों, तो उन्हें मिटाने के लिए टूथपेस्ट का प्रयोग करें। निशान तुरंत साफ हो जाएंगे.

5 Toothpaste नींबू के साथ मिलाकर फेसपैक की तरह लगाने पर त्वचा गोरी होती है. झुर्रियां और डार्क सर्कल्स को मिटाने के लिए भी इसका प्रयोग किया जा सकता है.

6 गहने चमकाना चाहते हैं, तो टूथपेस्ट का प्रयोग करें। यह आपके गहनों को साफ कर एकदम चमका देगा.

7 घर में अगर दूध के बर्तनों में से महक हटानी हो, या बच्चों की दूध की बॉटल को साफ करना हो, तो आप उस बर्तन में थोड़ा-सा टूथपेस्ट घुला हुआ पानी डालकर खंगाल लें.

घरो मे इस्तेमाल होने वाली टूथपेस्ट हमारे लिये बहुत उपयोगी है. आपने देखा होगा Toothpaste history and benefit के बारे मे आपने जान लिया होगा. आज से जब भी ब्रश करोगे कब इन बातो का भी खयाल हमेशा रखे.

https://m.facebook.com/story.php?story_fbid=199587458507275&id=103629414769747

Author

शिक्षा यानी education जो हमारे जीवन को संस्कारित करती है. हमारे जीवन को आकार देती है. प्रेरणा यानी motivation हमे हर परिस्थिती से लढणे का बल प्रदान करती है. Education and motivation ये दोनो शब्द हमारे जीवन में काफी महत्व रखते है. Education और motivation इस विषय को लेकर हिंदी मे ब्लॉग लिख रहा हू, जिसका नाम है worldtruthblog.

Write A Comment

sixteen − 10 =