दोस्तो जब हम रात में गहरी नींद मे होते है तब अचानक जाग जाते है इसकी वजह मच्छर होते है. इंसानो को होने वाली बहुतांश बिमारी का कारण मच्छर होते है. आपको पता है 20 अगस्त को पूरे विश्व में world mosquito day मनाया जाता है. आइए जानते है इस दिवस के बारे मे.

जब हम कुछ नही बैठे है या फिर कोई भी काम करणे बैठते है तब हमारे इर्द-गिर्द बहुत सारे मच्छर भुनभु नाते है. और फिर काम से हमारा मन हट जाता है. यांनी इतना सा मच्छर हमारा ध्यान भटका देता है. मच्छरो की विभिन्न प्रजातीया विश्व मे मौजूद है.

World mosquito day history

World mosquito day की शुरुवात कब हुई हम इस के बारेमे जानते है. यह दिवस शास्त्रज्ञ सर रोनाल्ड रास की स्मृती मे मनाया जाता है. 1897 मी शास्त्रज्ञ रोनाल्ड मलेरिया मलेरिया के बारेमे उपयुक्त संशोधन किया था. मलेरिया जैसी बिमारी मादा मच्छर के काटने से होती है, ऐसा महत्त्वपूर्ण संशोधन किया था. तबसे शास्त्रज्ञ रोनाल्ड की याद मे यह दिवस मनाया जाता है.

मच्छर दिवस की शुरुवात

मलेरिया से संबंधित उपयुक्त संशोधन शास्त्रज्ञ रोनाल्ड ने किया था. उनका संशोधन दुनिया के लिए महत्त्व पूर्ण साबित हुआ. मलेरिया जैसे बिमारी को हटाने के लिए इस क्षेत्र में उपयुक्त संशोधन किया गया. जिससे हजारो लोगो की जान बचाये गई. शास्त्रज्ञ रोनाल्ड के उपयुक्त संशोधन के लिए 1902 मे नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया गया. और 20 अगस्त 1897 से पूरे विश्व में world mosquito day मनाना शुरू हो गया.

इस दिन क्या करना चाहिए

World mosquito day मनाने का कारण हमे जा नना चाहिए. क्यूकी मच्छरो के काटने से इंसान प्रभावित होता है. मच्छर ओके काटने से बहुत सारी बारी इंसान को होती है. इसलिये मच्छरो की पैदावर रोकने के लिए हमें क्या प्रयास करणा चाहिये इसके बारे मे जागृती होनी चाहिये. यह जागृती करणे का दिवस आज का है. वैसे तो पुरे साल भर हम जागृती कर सकते है.

मच्छर कहा कहा पैदा होते है

World mosquito dayके अवसर पर हमे अपने ही घर से मच्छरो की पैदावार रोकने की शुरुवात करणी चाहिये. हमारे घर के आस पास जमा होते कुडा कचरा साफ करना चाहिए. पानी की टंकी या हर आठ दिन में साफ करने चाहिए. जहा गंगा पाणी जमा होता है उसे बहता करना चाहिए. मच्छरो की रोकथाम करने के लिए हमे सजग रहना चाहिए. जहा जहा मच्छर पैदा हो सकते है ऐसे स्थानो को धुंड निकाल कर गुन्हे साप और स्वच्छ करना चाहिये. मच्छरो के काटने से छोटे बच्चो को बचाना चाहिये. जहा तक हो सके रात मे सोते समय मच्छरदानी का इस्तेमाल करना चाहिये.

मच्छर के काटने से होनेवाली बिमारीया

World mosquito day के इस अवसर पर हमें यह भी जाना चाहिये की मच्छरो के काटने से कौन सी बीमारी होती है. मच्छरो का काटना हमारे शरीर के लिए घातक हो सकता है. मच्छर ओके काटने से मलेरिया, डेंग्यू, चिकनगुनिया, फाइलेरिया, जीका वायरस, पीतज्वर, इन्सेफेलाइटिस जैसी बीमारिया हो सकती है. इसके कारण इंसान की जान कोई खतरा हो सकता है.

मच्छर के काटने से होनेवाले रोग के लक्षण

World mosquito day के अवसर पर हमे जागृकता बनानी चाहिये. इसलिये हम जानते है मच्छरो के काटने से होने वालेरोग के लक्षण क्या है.

मलेरिया : यह बीमारी मादा मच्छर के काटने से होती है. यह मच्छर बरसात के मौसम मे जादा बढता है और मलेरिया रोग परजीवी प्लाज्मोडियम से फैलने वाला रोग है.

डेंग्यू : यह बिमारी भी बरसात के दिनो मे ज्यादा चलती है. इसका वायरस DENV-1, DENV-2, DENV-3, DENV-4 वायरस होता है. यह बिमारी होने पर तेज बुखार आता है. हड्डीयो मे बहुत दर्द होता है. तेज बुखार, सरदर्द, आखो के पीछे दर्द और शरीर के जोडो मे दर्द होता है.

चिकनगुनिया : मच्छरो के काटने से होने वाली यह तकलीफ देह बिमारी है. यह बिमारी होने पर शरीर के जोडो मे बहुत दर्द होता है इंसान चलना, उठणा, बैठणा नही कर सकता. 1952 मे तंजानिया मे चिकनगुनिया का पहिला मरीज मिला था. तंजानिया मे इसे विकृत बिमारी कहा जाता था

पीतज्वर : यह बिमारी ज्यादातर सहारा अफ्रीका के इलाके मे होती है. इस इलाके मे पनपने वाले मच्छरो से यह बीमारी होती है. इस बिमारी मे तेज बुखार आता है. इस बिमारी से आफ्रिका मे हर साल दो लाख लोक प्रभावित होते है.

इंसेफ़लाइटिस : मच्छर से पैदा होने वाले इस वायरस का नाम अमरीका के विस्कॉन्सिन राज्य के ला क्रोसे शहर के नाम पर पड़ा, जहां पहली बार 1963 में, इसका पता चला था.

मच्छरो की प्रजाती हानिकारक

World mosquito day के अवसर पर हमे मच्छरो के बारे में अधिक जानकारी लेनी चाहिये. दुनियामे मच्छरो की बहुत सारी प्रजाती मिलती है. आपको यह बता दे कि नर मच्छर पेड पोधो को काटते है और मादा मच्छर इंसानो को. जब मादा मच्छर इंसान का खून चुस लेती है तब वह इंसान के शरीर मे रोगो का संचारण भी कर देती है. इस बात से ये स्पष्ट होता है की नर मच्छर से भी अधिक खतरनाक मादा मच्छर होती है.

मच्छरो के काटने से बचने के उपाय

World mosquito day के बारेमे जानकारी लेते हुए हमे भी जाना चाहिए कि मच्छरो के काटने से किस तरह बचा जा सकता है. हम कही छोटे छोटे उपाय से मच्छरो के काटने से बच्चे सकते है.

हमारे घर के आसपास पाणी ना जमा होने दे.

जहा पाणी जमा हो वहा पेट्रोल की कुछ बुंदे डाले.

हमारी immunity system को बनाये रखे. इसके लिए अच्छा खाना और ताजा खाना खाये.

विटामिन की मात्रा को बनाये रखे. आवळा संत्रा का सेवन करे.

जब कूलर का इस्तेमाल करे तब रोजाना कुलर का पाणी बदले.

रोज सुबह या रात मे हलदी वाला पाणी का सेवन करे.

राज को सोते वक्त अपने शरीर को ढक कर सोये.

World mosquito day के विषय मे जानकारी लेते हुए हमने आज मच्छरो से होने वाली बिमारी और उसके उपाय के बारे मे जाना. घर के सभी सदस्य को मच्छरो के काटने से बचना चाहिए.

Author

शिक्षा यानी education जो हमारे जीवन को संस्कारित करती है. हमारे जीवन को आकार देती है. प्रेरणा यानी motivation हमे हर परिस्थिती से लढणे का बल प्रदान करती है. Education and motivation ये दोनो शब्द हमारे जीवन में काफी महत्व रखते है. Education और motivation इस विषय को लेकर हिंदी मे ब्लॉग लिख रहा हू, जिसका नाम है worldtruthblog.

Write A Comment

three + 2 =